Advertisement

उत्तरप्रदेश मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना 2021: UP Mukhyamantri Bal Sewa Yojana

Advertisement

UP Mukhyamantri Bal Sewa Yojana Form | उत्तरप्रदेश मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना आवेदन फॉर्म | यूपी मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना के लाभ | Mukhyamantri Bal Sewa Yojana Details in Hindi

आप सभी जानते है कि आज पूरा देश कोरोना महामारी से जूझ रहा है। कोरोना के कारण बहुत से बच्‍चों ने अपने माता-पिता तथा कानूनी अभिभावकों को खोया है। ऐसे में इस कठिन समय में इन बच्‍चों को सरक्षंण प्रदान करने के उद्देश्‍य से उत्तरप्रदेश राज्‍य के माननीय मुख्‍यमंत्री श्री योगी आदित्‍य नाथ जी के द्वारा उत्तरप्रदेश मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना को शुरू करने का निर्णय लिया गया है। इस योजना के तहत प्रदेश में कोरोना के चलते अनाथ हुए बच्‍चों को प्रदेश सरकार द्वारा प्रतिमाह ₹ 4,000 की सहायता दी जाएगी। बाल सेवा योजना के तहत इन बच्‍चों की पढ़ाई की पूर्ण व्‍यवस्‍था की जाएगी तथा बालिकाओं को विवाह हेतु आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाएगी।

Advertisement

उत्तरप्रदेश मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना 2021 क्‍या है?, यूपी बाल सेवा योजना के उद्देश्‍य, पात्रता तथा योजना के लाभ तथा UP Mukhyamantri Bal Sewa Yojana के तहत आवेदन करने कैसे करे। अगर आप इस योजना के तहत इन सभी जानकारीयों के बारे में जानना चाहते है तो आपसे निवेदन है कि आप इस लेख के साथ अन्‍त तक बने रहे।

Uttarpradesh Mukhyamantri Bal Sewa Yojana 2021

इस योजना को राज्‍य के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ जी द्वारा आरंभ करने की घोषणा की गई है। इसकी अधिकारीक घोषणा मुख्‍यमंत्री जी द्वारा ट्विवटर के माध्‍यम से प्रदान की गई है। राज्‍य में कोरोना के कारण अनेक बच्‍चों के माता-पिता अथवा अभिभावकों की मृत्‍यु हो गई है। ऐसे में कोरोना के कारण अनाथ हुए इन बच्‍चों की देखभाल, सरंक्षण तथा उनके भविष्‍य निर्माण हेतु प्रदेश सरकार द्वारा मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना 2021 (UP Mukhyamantri Bal Sewa Yojana) का शुभांरभ किया गया है। इस योजना के तहत कुल 5 निर्णय लिए गए है जिसके तहत इन अनाथ बच्‍चों को आर्थिक सहायता, शिक्षा, लैपटॉप/टेबलेट तथा बालिका विवाह हेतु मदद प्रदान की जाएगी।

Mukhyamantri Bal Sewa Yojana Short Information

योजना का पूरा नामउत्तरप्रदेश मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना
किसके द्वारा आरंभउत्तरप्रदेश सरकार
योजना के उद्देश्‍यकोरोना से अनाथ हुए बच्‍चों को सरंक्षण प्रदान करना
योजना के लाभार्थी राज्‍य के अनाथ बच्‍चे जिनके मा‍ता-पित अथवा कानूनी अभिभावक की मृत्‍यु कोरोना के कारण हुई हो।
अधिकारीक वेबसाइटअभी नहीं

मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना उत्तरप्रदेश के उद्देश्‍य क्‍या है?

जैसा कि आप सभी जानते है कि राज्‍य कोविड 19 के कारण बहुत से बच्‍चो के माता-पिता या फिर कानूनी अभिभावकों की मृत्‍यु हो गई है। माता-पिता अथवा अभिभावक को खाेने से ये बच्‍चे अनाथ हो गए है तथा इनके ऊपर सकंट आ गया है। ऐसे में इन अनाथ बच्‍चों को लाभ प्रदान करने के उद्देश्‍य से मुख्‍यमंत्री जी द्वारा उत्तरप्रदेश मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना को आरंभ किया जा रहा है। जिससे कि कोरोना के चलते इनके लालन-पालन, पढ़ाई लिखाई आदि में किसी तरह की दिक्‍कत न आये। इस योजना के तहत अनाथ हुए बच्‍चों को वयस्‍क होने तक प्रदेश सरकार द्वारा ₹ 4,000 प्रतिमाह प्रदान किए जाएगे। इसके अलावा 10 वर्ष से कम आयु बच्‍चे, जिनका कोई अभिभावक या केयर टेकर नहीं है उन्‍हे राज्‍य सरकार द्वारा सचांलित बाल सरंक्षण ग्रहो में आवास प्रदान किया जाएगा। योजना के तहत अवस्‍क बालिकाओं को की देखभाल, आवासीय विद्यालयो में शिक्षा तथा उनके विवाह हेतु आर्थिक सहायता दी जाएगी। तथा जो बच्‍चे व्‍ययसायिक कोर्स की पढ़ाई कर रहे है उन्‍हे योजना के तहत टेबलेट अथवा लैपटॉप प्रदान किए जाएंगे।

Advertisement

यूपी मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना लाभार्थी सूची

उत्तरप्रदेश मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत कोरोना काल में अनाथ हुए बच्‍चों को लाभ पहुचाने के उद्देश्‍य से इस योजना को आरंभ किया गया है। इस योजना के अन्‍तर्गत महिला एवं बाल कल्‍याण विभाग के द्वारा योजना का लाभ लेने वाले 2100 बच्‍चों की सूची को तेयार किया गया है। जिसमें से 195 बच्‍चे ऐसे है जो कि पूर्ण रूप से अनाथ हो गए है। आपको बता दे इस योजना के तहत 18 वर्ष तक आयु वाले उन बच्‍चों को रखा जाएगा जिनके एकल अभिभावक अथवा आजीविका कमाने वाले अभिभावक या फिर दोनो अभिभावकों की कोरोना के कारण मृत्‍यु हुई हो।

UP Mukhyamantri Bal Sewa Yojana 2021 के लाभ

  • प्रदेश में कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्‍चों को लाभ देने के लिए इस योजना को आरंभ किया गया है।
  • इस योजना का लाभ राज्‍य के उन सभी बालक-बालिकाओं को प्रदान किया जाएगा जिनके माता-पिता अथवा कानूनी अभिभावक की मृत्‍यु कोरोना के कारण हुई हो।
  • योजना के तहत इन सभी अनाथ बच्‍चों को वयस्‍क होने तक राज्‍य सरकार द्वारा प्रत्‍येक बच्‍चे को 4000 रूपये प्रतिमाह दिए जाएंगे।
  • 10 वर्ष से कम आयु के बच्‍चे जिनके कोई अभिभावक अथवा गार्जियन मौजूद नहीं है ऐसे बच्‍चों को भारत सरकार की सहायता से अथवा राज्‍य सरकार द्वारा सचांलित बाल सरंक्षण ग्रहों में सरंक्षण प्रदान किया जाएगा।
  • Mukhyamantri Bal Sewa Yojana 2021 के अन्‍तर्गत अवयस्‍क बालिकाओं को भारत सरकार के तहत सचांलित कस्‍तूरबा गांधी बालिका विद्यालय में शिक्षा प्रदान की जाएगी। अथवा राज्‍य सरकार के तहत बालिका ग्रहों में सरंक्षण दिया जाएगा।
  • जिन बालिकाओं ने कोरोना के कारण अपने माता-पिता अथवा कानूनी अभिभावकों को खोया है उन बालिकाओं के विवाह हेतु प्रदेश सरकार द्वारा योजना के तहत ₹ 101000 प्रदान किए जाएंगे।
  • उत्तरप्रदेश मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत स्‍कूलों में अध्‍ययन करने वाले अथवा व्‍यावसायिक कोर्स करने वाले ऐसे बच्‍चे जिन्‍होने कोविड-19 के कारण अपने माता-पिता अथवा अभिभावक को खोया है उन सभी बच्‍चों को ऑनलाइन शिक्षा हेतु लैपटॉप या टैबलेट प्रदान किया जाएगा।

उत्तरप्रदेश मुख्‍यमंत्री कोरोना सहायता योजना की विशेषताये

  • राज्‍य के अनाथ बच्‍चों को लाभ पहुचाने के लिए मुख्‍यमंत्री श्री योगी आदित्‍यनाथ जी के द्वारा मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना को आरंभ करने की घोषणा की गई है।
  • ऐसे सभी बच्‍चे जिनके माता-पिता अथवा वैध अभिभावकों की मृत्‍यु कोविड-19 के कारण हुई है उन्‍हे इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के अन्‍तर्गत काेरोना की वजह से अनाथ होने वाले बच्‍चों को सरंक्षण प्रदान किया जाएगा।
  • योजना के तहत 10 वर्ष से कम आयु वाले बच्‍चे जिनका कोई गार्जियन या केयर टेकर नही है। इन बच्‍चों को राज्‍य के बाल सरंक्षण ग्रहों में आवासीत किया जाएगा।
  • वर्तमान में राज्‍य में कुल 5 ऐसे बाल सरंक्षण ग्रह सचांलित है जिनमें इस तरह के बच्‍चों का पालन पोषण किया जा रहा है। ये बाल संरक्षण ग्रह मथुरा, प्रयागराज, लखनऊ, रामपुर तथा आगरा मे सचांलित है।
  • उत्तरप्रदेश मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत अवयस्‍क बच्चियों के लिए केन्‍द्र सरकार द्वारा चलाए जा रहे कस्‍तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में अथवा राजकीय बालिका ग्रहों में शिक्षा की व्‍यवस्‍था की जावेगी। वर्तमान में राज्‍य में इस तरह के कुल 13 बालिका ग्रह सचांलित किए जा रहे है।
  • योजना के तहत ऐसे बालक-बालिकाओं को सभी तरह की सुविधाये नि:शुल्‍क प्रदान करने के लिए प्रदेश सरकार 18 अटल आवासीय विद्यालयों को सचांलित करने जा रही है।

मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना के लिए आवश्‍यक पात्रता

Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Sewa Yojana के तहत लाभ लेने हेतु आवेदक के पास कुछ पात्रता होना जरूरी है जो कि निम्‍नलिखित है:-

Advertisement
  • आवेदक उत्तरप्रदेश राज्‍य का स्‍थायी निवासी हो।
  • कोरोना के चलते अपने माता-पिता को खाने वाले बच्‍चे इस योजना के तहत पात्र होंगे।
  • ऐसे बच्‍चे जिनके माता-पिता में से किसी एक की मृत्‍यु मार्च 2020 से पहले हुई हो। तथा दूसरे की मृत्‍यु कोविड काल में हुई हो।
  • वही जिन बच्‍चों के माता-पिता दोनो की मृत्‍यु 1 मार्च 2020 से पहले होने पर योजना के तहत लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • जिन बच्‍चों के माता तथा पिता में से किसी एक की मृत्‍यु कोविड काल में हुई हो तथा वह परिवार का मुख्‍य कमाऊ सदस्‍य हो।
  • वर्तमान में परिवार की सालाना आय 200000 लाख रूपये से अधिक न हो।

UP Mukhyamantri Bal Sewa Yojana 2021 हेतु आवश्‍यक दस्‍तावेज

उत्तरप्रदेश बाल सेवा योजना के तहत आवेदन करने के लिए उम्‍मीदवार के पास निम्‍नलिखित दस्‍तावेज होने चाहिए:-

  • बच्‍चे तथा अभिभाव की पासपोर्ट साइज फोटो
  • पूर्ण रूप से भरा हुआ आवेदन पत्र
  • माता-पिता के मृत्‍यु का प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र (माता-पिता दोनो की मृत्‍यु होने पर आय प्रमाण पत्र आवश्‍यक नहीं)
  • बच्‍चे का आयु प्रमाण पत्र
  • शिक्षण संस्‍थान पंजीकरण प्रमाण
  • उत्तरप्रदेश निवासी होने का घोषण सबंधी पत्र

उत्तरप्रदेश मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना 2021 के तहत ऑनलाइन आवेदन कैसे करे?

प्रदेश के जो भी उम्‍मीदवार अथवा आवेदनकर्त्ता उत्तरप्रदेश मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना में आवेदन करना चाहते है तो इसके लिए आपको नीचे दिए चरणों का पालन करना होगा:-

  • आवेदन के लिए सर्वप्रथम आपको ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में सबंधित विभाग के कार्यालय में जाना होगा।
  • अगर आप ग्रामीण श्रेत्रों से आते है तो उसके लिए आपको अपने ग्राम विकास / पचांयत अधिकारी या विकास खंड अथवा जिला प्रोबेशन ऑफिसर के कार्यालय में जाना है। वही शहरी क्षेत्रों में निवास करने वाले उम्‍मीदवारों को लेखपाल / तहसील या जिला प्रोबेशन अधिकारी के दफ्तर में जाना होगा।
  • सबंधित कार्यालयो में जाने के बाद आपको वहा से इस योजना का निर्धारित प्रारूप में आवेदन फॉर्म प्राप्‍त करना होगा।
  • आवेदन फॉर्म प्राप्‍त करने के बाद आपको इसमें पूछी गई समस्‍त जानकारीयाे तथा विवरणों को पूर्ण रूप से भरना होगा।
  • यूपी मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना आवेदन फॉर्म को भरने के बाद इसके साथ सभी तरह के दस्‍तावेजों को लगाकर इसे कार्यालय में सबमिट करना होगा।
  • इस प्रकार से जो भी उम्‍मीदवार इस योजना का लाभ लेना चाहते है वो उत्तरप्रदेश मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना 2021 में आवेदन कर पाएंगे।
  • बता दे इस योजना के तहत बाल सरंक्षण इकाई व बाल कल्‍याण समिति द्वारा चिन्हित किए गए बच्‍चों के आवेदन की प्रक्रिया को 15 दिवस के भीतर पूरा कराया जाएगा।
  • योजना के अन्‍तर्गत माता-पिता अथवा माता अथवा पिता की मृत्‍यु  से 2 वर्ष के अन्‍दर आवेदन करके इस योजना का लाभ लिया जा सकता है।

उम्‍मीद करते है कि उत्तरप्रदेश मुख्‍यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत जो भी जानकारीया इस लेख के जरिए आप तक पहुचाई गई है आपके लिए उपयोगी साबित होगी। यदि आपको आज का यह लेख पसंद आया हो तो आप इसे दूसरे लोगो के साथ अवश्‍य शेयर करे। साथ ही UP Mukhyamantri Bal Sewa Yojana से जुड़ी अधिक जानकारी प्राप्‍त करने के लिए आप सबंधित विभाग की अधिकारीक वेबसाइट पर जाये तथा पूर्ण जानकारी प्राप्‍त करने के पश्‍चात् आवेदन की प्रक्रिया को आरंभ करे।

केन्‍द्र एवं राज्‍य सरकार द्वारा चलाई जाने वाली तमाम तरह की योजनाओ की जानकारी से अपडेट रहने के लिए आप हमारे Facebook Page को भी Like कर सकते है। धन्‍यवाद

Leave a Comment