Advertisement

राजीव गांधी किसान न्‍याय योजना 2021 – Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana |RGKNY एप्‍लीकेशन फॉर्म

Advertisement

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana Form Download | किसान न्‍याय योजना आवेदन फॉर्म | छत्तीसगढ़ राजीव गांधी किसान न्‍याय योजना आवेदन कैसे करे | Kisan Nyay Yojana Installments

प्‍यारे दोस्‍तों आज के इस आर्टिकल में हम जानेंगे राजीव गांधी किसान न्‍याय योजना के बारे में। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा अपने वर्ष 2020-21 के बजट के दौरान किसानो को उनकी पैदावार का सही दाम दिलाने के उद्देश्‍य से इस योजना की घोषणा की गई। किसानो को लाभ पहुचाने के लिए राजीव गांधी किसान न्‍याय योजना (RGKNY) को देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्‍य तिथि अर्थात 21 मई 2020 से सपूंर्ण छत्तीसगढ़ प्रदेश में आरंभ किया गया। इस योजना के तहत राज्‍य के किसानो को खेती किसानी के लिए प्रोत्‍साहित करने के साथ-साथ उन्‍हे फसल उत्‍पादन का वास्‍तविक मूल्‍य प्रदान किया जाएगा।

Advertisement

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana क्‍या है, इस योजना के तहत किसानो को क्‍या-क्‍या लाभ मिलेगे, जरूरी पात्रता एवं दस्‍तावेज व RGKNY के लिए आवेदन कैसे करे आदि के बारे में पॉइंट टू पॉइंट जानकारी हासिल करने के लिए आपसे निवेदन है कि इस पोस्‍ट को अन्‍त तक पूरा पढे़।

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana

छत्तीगढ़ किसान न्‍याय योजना के अन्‍तर्गत प्रदेश के धान, मक्‍का एवं गन्‍ने की पैदावार करने वाले लगभग 19 लाख किसान भाइयो को योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा प्रदेश में धान पैदा करने वाले किसानो को उनकी जमीन पर 10,000 रूपये प्रति एकड़ अतिरिक्‍त सहायता प्रदान की जाएगी। Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana के तहत किसानो को इस तरह कुल चार किस्‍तों में लगभग 5700 करोड़ रूपये ट्रासंफर किए जाएंगे। छत्तीगढ़ राज्‍य के जो भी किसान इस योजना के तहत पात्रता रखते है वो RGKNY के लिए आवेदन फॉर्म भरकर इस योजना का फायदा ले सकते है।

1 जून से 30 सितम्‍बर तक कराना होगा योजना में पंजीकरण

राज्‍य के किसानों को राजीव गांधी किसान न्‍याय योजना का लाभ प्रदान करने के उद्देश्‍य से योजना के तहत 1 जून से लेकर 30 सितम्‍बर तक पंजीयन कराया जा सकेगा। राज्‍य सरकार द्वारा योजना के अन्‍तर्गत पंजीकरण करवाने हेतु जरूरी गाइडलाइन को जारी किया गया है। Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana के तहत पंजीयन के समय किसान को अपना आधार कार्ड कॉपी जमा कराना अनिवार्य है। योजना के तहत सभी श्रेणीयों के भू-स्‍वामी तथा वन पट्टाधारी किसान अन्तिम तिथि से पहले योजना में पंजीयन कराकर इसका लाभ ले सकते है।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए किसानों को पंजीयन कराना होगा। इसके लिए राज्य शासन ने जरूरी दिशा निर्देश जारी कर दिया है। एक जून से 30 सितंबर तक पोर्टल खुले रहेंगे। पोर्टल के जरिए पंजीयन कराना होगा। पंजीयन के दौरान किसानों को आधार नंबर देना जरूरी किया गया है। सत्‍यापन के पश्‍चात् किसान को पूर्ण भरे हुए आवेदन फॉर्म को जरूरी कागजातों के साथ सबंधित किसान साख सहकारी समिति के ऑफिस में जमा करना होगा।

राज्‍य सरकार ने बढ़ाया छत्तीसगढ़ राजीव गांधी किसान न्‍याय योजना का दायरा

राज्‍य में कृषि को प्रोत्‍साहन देने के उद्देश्‍य से इस महत्‍वाकांक्षी योजना को पिछले वर्ष आरंभ किया गया था। जैसा कि आप सभी जानते है कि इस योजना के तहत अभी तक धान तथा गन्‍ना उत्‍पादक किसानों को किसान न्‍याय योजना के तहत कवर किया गया था लेकिन किसानों के हितों को ध्‍यान में रखकर अब छत्तीसगढ़ राज्‍य सरकार द्वारा इस योजना के दायरे को बढ़ा दिया गया है जिसके अन्‍तर्गत अब खरीफ मौसम की लगभग सभी फसल को इस योजना मे शामिल कर लिया गया है। सरकार द्वारा उठाये गए इस कदम से प्रदेश में काफी किसानों को फायदा मिलेगा।

Advertisement

21 मई 2021 को जारी की जाएगी RGKNY की पहली किस्‍त

जैसा कि दोस्‍तों आप सभी जानते है कि छत्तीसगढ़ के किसानों को फसल उत्‍पादन करने के लिए प्रोत्‍साहित करने तथा उन्‍हे उनकी पैदावार का सही मूल्‍य दिलवाने के लिए 21 मई 2020 को Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana का शुभांरभ किया गया था।

  • किसान न्‍याय योजना के अन्‍तर्गत वर्ष 2019-20 में योजना के तहत अब तक पंजीकृत किसानों को 4 किस्‍तों के रूप में कुल 5700 करोड़ की धनराशि ट्रासंफर की जा चुकी है।
  • इस योजना के तहत अब खरीफ सीजन 2020-21 के तहत 21 मई को राज्‍य के 22 लाख किसानों के बैंक खातों में योजना की पहली किस्‍त के तहत 1500 करोड़ रूपये कृषि इनपुट सब्सिडी के रूप में भेजे जाएंगे। इसके अलावा इस मौके पर प्रदेश मे सचांलित गौधन न्‍याय योजना के तहत राज्‍य के गोपालको को गोबर खरीद की एवज में 7.17 करोड़ रूपये की राशि ट्रासंफर करी जाएगी।

19 मई 2021 को कैबिनेट मीटिंग में लिए गए अहम फैसले

जैसा कि आप सभी जानते है कि राजीव गांधी किसान न्‍याय योजना के तहत किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। राजीव गांधी किसान न्‍याय योजना के तहत अब आगामी 21 मई को खरीफ सीजन 2020-21 के तहत किसानों को धान पर प्रति एकड़ 9 हजार रूपये की सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

  • प्रदेश में अब एक नई योजना – मुख्‍यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्‍साहन योजना आरंभ की जाएगी। अगर किसान धान के बदले वृक्षारोपण करते है तो उन्‍हे इस नई योजना के तहत 3 वर्ष तक 10000 रूपये प्रति एकड़ प्रोत्‍साहन प्रदान किया जाएगा।
  • कैबिनेट मे लिए गए फैसले के तहत इस योजना के तहत किसानों को दी जाने वाली प्रोत्‍साहन राशि में कटोती की गई है जिसके तहत अब धान पर 9000 रूपये प्रति एकड़ का प्रोत्‍साहन प्रदान किया जाएगा। इस योजना में अब खरीफ की समस्‍त फसलें जैसे धान, मक्‍का, कुटकी, कोदो, मूंग, अरहर, रागी, कुल्‍थी, उड़द, मूगंफली, सोयाबीन, रामतिल, तिल, कपास, जूट, सनई, कृषि वानिकी तथा गन्‍ना आदि फसलों को शामिल किया गया है।

किसान न्‍याय योजना की 4th किस्‍त

छत्तीसगढ़ राज्‍य के मुख्‍यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा 21 मार्च 2021 को राज्‍य के 18 लाख 83 हजार किसानो के बैंक खाते में राजीव गांधी किसान न्‍याय योजना की आखिरी एवं चौथी किस्‍त के रूप में एक हजार 104 करोड़ 27 लाख रूपये ट्रांसफर किए गए। Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana के तहत किसानो को योजना की तीन किस्‍तो के रूप में कुल 4500 करोड़ रूपये का भुगतान पहले ही किया जा चुका है।

राजीव गांधी किसान न्‍याय योजना का उद्देश्‍य

जैसा कि आप जानते होंगे कि छत्तीसगढ़ राज्‍य की लगभग 70 प्रतिशत आबादी खेती करके अपना जीवन यापन करती है। कृषि कार्य के दौरान अक्‍सर किसानो को विपरीत मौसम एवं अन्‍य समस्‍याओ के कारण ऋण की कमी से जूझना पड़ता है जिसकी वजह से किसान कृषि कार्य के लिए आवश्‍यक सामग्री जैसे उन्‍नत बीज, कीटनाशक, नवीनतम तकनीकी कृषि उपकरण आदि खरीद पाने का असमर्थ होते है। किसानो को खेती करने के लिए इन सभी की पूर्ति एवं फसल पैदावार को प्रोत्‍साहित करने के लिए राज्‍य सरकार द्वारा Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana को आरंभ किया गया है इस योजना के तहत किसानो को 4 किस्‍तो के जरिए वित्तिय सहायता डीबीटी के जरिए सीधे उनके बैंक खातो में डाली जाएगी।

किसानो को मिलेंगे प्रति एकड अधिकतम 10 हजार रूपये

किसान न्‍याय योजना (RGKNY) के तहत पात्र किसानों को खरीफ 2019 में धान व मक्‍का फसल पैदावार के लिए 10 हजार रूपये अधिकतम प्रति एकड़ के आधार पर प्रदान किए जाएंगे। वही गन्‍ने क्रय के लिए तय एफआरपी राशि 261.25 रूपये प्रति क्विंटल एवं प्रोत्‍साहन व आदान राशि 93.75 रूपये प्रति क्‍विंटल यानि कि कुल 355 रूपये प्रति क्विंटल के हिसाब से गन्‍ना पैदा करने वाले किसानो को दिया जाएगा। गन्‍ने की फसल के लिए यह सहायता राशि सहकारी शक्‍कर कारखाना के द्वारा लिस्‍ट किए गए क्षेत्रों में क्रय गन्‍ना की मात्रा के आधार पर दी जाएगी।

Rajiv Gandhi Kisan Yojana योजना से होने वाले लाभ

  • योजना का लाभ केवल छतीसगढ राज्‍य के किसानो को ही दिया जाएगा।
  • इसके तहत 2019 से खरीफ की धान व मक्‍का जैसी फसलो के लिए किसानो को अधिकतम 10,000 रूपये प्रति एकड के हिसाब से सहायता राशि दी जाएगी।
  • स्‍कीम के शुरूआत में आज धान की फसल के लिए पहली किस्‍त के अन्‍तर्गत लगभग 1500 करोड रूपये की रकम दी जाएगी।
  • इसी तरह गन्‍ना फसल के लिए पेराई वर्ष 2019-20 में सहकारी कारखाना द्वारा खरीदे गए गन्‍ने की मात्रा के आधार पर एफआपी राशि 261 रूपये प्रति क्विंटल एवं प्रोत्‍साहन/सहायता राशि 93.75 रूपये प्रति क्विंटल अर्थात अधिकतम 355 रूपये प्रति क्विटंल की दर से दिया जाएगा।
  • लाभार्थी किसानो के बैंक खातो में यह राशि Direct Benefit Transfer (DBT) के माध्‍यम से भेजी जाएगी।

छत्तीसगढ़ किसान न्‍याय योजना के लिए जरूरी दस्‍तावेज व पात्रता

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट फोटो
  • वैध मोबाइल नबंर

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana की पात्रता

  • इस योजना का लाभ केवल उन किसानो को ही प्रदान किया जाएगा जो कि छत्तीसगढ़ राज्‍य के स्‍थायी निवासी है।
  • किसान न्‍याय योजना के तहत लाभ लेने के लिए आवेदनकर्त्ता किसान होना चाहिए तभी योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • वर्तमान में इस योजना के तहत खरीफ मौसम के तहत धान, मक्‍का, सोयाबीन, मूंगफली, तिल, अरहर, मूंग, उड़द, कुल्‍थी, रामतिल, कुटकी, कोदो एवं रागी आदि फसलो को शाामिल किया गया है।
  • योजना के तहत वर्तमान में रबी फसल के तहत गन्‍ना की फसल को भी जोड़ा गया है।
  • इस योजना के तहत किसानो को जो वित्तिय सहायता प्रदान की जाएगी वह DBT के जरिए उनके खाते में डाली जाएगी इसलिए उनका बैंक खाता उनके आधार से लिंक होना चाहिए।
  • CG Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana के तहत फसल पैदावार करने वाले संस्‍थागत भू स्‍वामी कृषको को इस योजना में पात्र नही माना जाएगा।

राजीव गांधी किसान न्‍याय योजना के तहत आवेदन कैसे करे?

प्रदेश में रहने वाले ऐसे किसान जो कि इस योजना के तहत निर्धारित की गई सभी तरह की पात्रता पूरी करते है वो इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है। योजना के तहत आवेदन करने के लिए आपको छत्तीसगढ़ कृषि विकास एवं किसान कल्‍याण तथा जैव प्रोद्योगिकी विभाग की अधिकारीक वेबसाइट पर जाकर राजीव गांधी किसान न्‍याय योजना का आवेदन फॉर्म डाउनलोड करना होगा। आवेदन फॉर्म डाउनलोड एवं प्रिंट करने के बाद फॉर्म में पूछी गई समस्‍त जानकारीयो को भरकर जरूरी दस्‍तावेजों के सा‍थ सबंधित विभाग के कार्यालय में समय सीमा के भीतर जमा कराना होगा। अगर आपको योजना का फॉर्म डाउनलोड करने में कोई दिक्‍कत आ रही है तो आप हमारे द्वारा प्रदान की गई डाइरेक्‍ट लिंक पर क्लिक करके भी Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana Application Form PDF Download कर सकते है।

आज की इस पोस्‍ट के माध्‍यम से हमने आपको छत्तीसगढ़ राजीव गांधी किसान न्‍याय योजना के बारे मे जरूरी जानकारी प्रदान की है। अगर पोस्‍ट मे बतायी गयी जानकारी आपको पसंद आयी हो तो इसे सभी के साथ शेयर करे। अगर आपके मन मे कोई प्रश्‍न है तो आप कमेंट करके जरूर पूछे। इसके अलावा यदि आप CG Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana से जुड़ी अधिकजानकारी के लिए आप राज्‍य सरकार की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाए।

Advertisement

केन्‍द्र एवं राज्‍य सरकार द्वारा चलाई जाने वाली तमाम तरह की योजनाओ की जानकारी से अपडेट रहने के लिए आप हमारे Facebook Page को भी Like कर सकते है। धन्‍यवाद

Leave a Comment