Advertisement

Pradhan Mantri Surakshit Matritva Abhiyan | प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्‍व योजना 2022 ऐसे करें रजिस्‍ट्रेशन

Advertisement

Pradhan Mantri Surakshit Matritva Yojana | प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्‍व अभियान 2022 ऐसे करें रजिस्‍ट्रेशन | Pradhan Mantri Surakshit Matritva Abhiyan in Hindi | प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्‍व अभियान 2022 | PM Surkshit Matritva Abhiyan 2022 | प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्‍व योजना कब शुरू हुई | PM Surkshit Matritva Yojana 2022 | पीएम सुरक्षित मातृत्‍व अभियान दिवस 2022 | PM Surakshit Matritva Abhiyan Online Apply | सुरक्षित मातृत्‍व योजना 2022 । Pradhan Mantri Surakshit Matritva Yojana

भारत सरकार देश के गरीब व कमजोर वर्ग के नागरिकों के लिए समय-समय पर लाभ व कई प्रकार की सुविधा देने के लिए नई योजनाए चलाती है। जिनका लाभ उठाकर गरीब परिवार अपनी मूल जरूरतों को पूरा करते है। इसी प्रकार भारत सरकार ने देश की गरीब परिवार की महिलाओं के लिए प्रधानतंत्री सुरक्षित मातृत्‍व अभियान (Pradhan Mantri Surakshit Matritva Abhiyan) को शुरू किया है। जिसके माध्‍यम से प्रदेश की सभी गरीब परीवार की गर्भवती महिलाओं को मदद दी जाएगी। अर्थात प्रधानमंत्रही सुरक्षित मातृत्‍व योजना के अनुसार गर्भवती स्त्रियों को मुफ्त ईलाज की सुविधा दे जाएगी। किन्‍तु इस स्‍कीम का लाभ लेने के लिए आकपो अस्‍पताल में रजिस्‍ट्रेशन करवना होगा। और यदि आप इस सुविधाजनक योजना के बारें में विस्‍तार से जानना चाहते है तो पोस्‍ट के अतं तक बने रहे।

Advertisement

प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्‍व योजना 2022 (Pradhan Mantri Surakshit Matritva Abhiyan)

Pradhan Mantri Surakshit Matritva Abhiyan
Pradhan Mantri Surakshit Matritva Abhiyan

पीएम सुरक्षित मातृत्‍व अभियान 2022 के तहत देश की उन सभी गर्भवती स्त्रियों को मुफ्त ईलाज की सुविधा दी जाएगी जो गरीबी रेखा में आती है। या उनकी आर्थिक स्थित‍ि बहुत कमजोर है। मातृत्‍व अभियान के जरिए गर्भवती महिला को 5000 रूपये तक को इलाज बिल्‍कुल फ्री में करवाया जाएगा। क्‍योंकि ज्‍यादातर महिलाऐ अपने परिवार का भरण-पोषण करने हेतु मजदूरी करती है। बहुत सी और ऐसी होती है जाे कई माह की प्रेंग्‍नेंट होते हुए भी मजदूरी करने पर विवश रहती है। क्‍योंकि आर्थिक तंगी से परेशान होकर उनके पास और कोई रास्‍ता नहीं होता इसी कारण वो स्‍वयं मजदूरी करती है। ऐसी महिलाओं की दशा को देखते हुए भारत सरकार ने प्रधाानमंत्री सुरक्षित माृतत्‍व अभियान Pradhan Mantri Surakshit Matritva Abhiyan 2022 को शुरू किया है। योजना के अनुसार ईलाज तो मुफ्त में होगा ही उसके साथ महिलाओं की सामाजिक सुरक्षा में बढ़ाेतरी होगी।

प्रधानतंत्री सुरक्षित मातृत्‍व अभियान क्‍या है (Pradhan Mantri Surakshit Matritva Yojana in Hindi)

प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्‍व योजना की शुरूआत केेंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय (MOHFW) ने सन 2016 में की थी। जिसमें घोषण की गई थी की देश की गरीब परिवार की महिलाओं को प्रेग्‍नेंसी (Pregnant Women) के समय फ्री में इलाज करवा सकती है। तथा डिलिवरी के समय महिला को अन्‍य प्रकार की सुविधाए भी दी जाएगी। अर्थात सुरक्षित मातृत्‍व स्‍कीम के अनुसार गर्भवती स्‍त्री अपने पहले मास से लेकर अंतिम नौ महीने तक किसी भी स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्र (Health Care Center) या अस्‍पताल में जाकर बिल्‍कुल मुफ्त में इलाज व जांच करवा सकती है। इसके अलावा यदि किसी स्‍त्री प्रसव के दौरान गंभीर स्थिति हो जाती है तो उसे भी समय पर उचित इलाज मुफ्त में दिया जाएगा।

पीएम सुरक्षित मातृत्‍व योजना का उदेश्‍य (Pradhan Mantri Surakshit Matritva Abhiyan 2022)

प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्‍व अभियान को शुरू करने का मुख्‍य कारण था गरीब परिवारों की महिलाओं को गर्भवस्‍था के समय मुफ्त में ईलाज व जांच की सुविधा प्रदान करना है। क्‍योंकि प्रदेश में ऐसे बहुत से परिवार है जिनकी स्थिती अति कमजोर होने के कारण वो महिलाओं को प्रेग्‍नेंसी के समय अच्‍छा ईलाज व दवाई नहीं दिला पाते है। समय पर अल्‍ट्रासाउड़ भी नहीं करा पाते है तथा प्रसव के समय महिला को अस्‍पताल ले जाने के बजाय घर पर ही प्रसव करवाना पड़ता है। ऐसी अनेक समस्‍याओं को देखते हुए केन्‍द्र सरकार ने प्रधानतंत्री सुरक्षित मातृत्‍व अभियान Pradhan Mantri Surakshit Matritva Yojana 2022 की शुरूआत की है। इस अभियान के तहत देश की उन सभी गरीब औरतो को प्रेग्‍नेंसी के समय व प्रसव के दौरान अनेक प्रकार की सुविधा व लाभ दिए जाएगे। इसी उदेश्‍य को लेकर इस अभियान को चलाया

Advertisement

5 हजार तक का इलाज है बिल्‍कुल फ्री जानिए

इस अभियान (PMKY) के अतंर्गत गरीब महिला को गर्भवस्‍था के समय 5000/- रूपये तक का इलजा निशुल्‍क दिया जाएगा। और उनको किसी भी अस्‍पताल में डिलीवरी कराने के लिए जागरूक किया जाएगा या सलाह दी जाती है। पीएमकेवाई अभियान के तहत प्रेग्‍नेंट औरत को ब्‍लड प्रेशन, बल्‍ड टेस्‍ट (Blood Test), हीमोग्‍लोबिन जांच (Hemoglobin Test), यूरिन टेस्‍ट (Urine Test), अल्‍ट्रासाउंड (Ultrasound Test) आदि बिल्‍कुल निशुल्‍क दिया जाता है। यदि कोई महिला प्रसव पीड़ा के समय ज्‍यादा गंभीर हो जाती है तो उसे उच्‍च चिकित्‍सा सेंटर में तुरन्‍त रेफर किया जाता है।

प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्‍व योजना (PMSMA) के लाभ

  • पीएम सुरक्षित मातृत्‍व योजना अभियान के अनुसार गरीब परिवार की उस महिला को जो गर्भवती है उसे 5 हजार रूपये तक का इलाज फ्री में दिया जाता है।
  • फ्री इलाज में प्रेग्‍नेंट महिला की खून की जांच, हिमोग्‍लोबिन जांच, ब्‍लड प्रेशर की जांच, अल्‍ट्रासाउंट आदि की जांच की जाती है।
  • इस योजना के तहत गर्भवती स्त्रिी का पूरा ध्‍यान रखा जाता है और गर्भवस्‍था के प्रथम महीने से लेकर पूरे नौ माह तक महिला को बेहतर स्‍वास्‍थय की सुविधा दी जाती है।
  • योजना के नियमों के अनुसार यदि किसी गरीब महिला को प्रसव पीड़ा के दौरान गंभीर हो जाती है तो उसे तुरन्‍त अच्‍छी चिकित्‍सा सुविधा के लिया रेफर किया जाता है।
  • योजना के अतंर्गत अब गॉवों की औरतो को भी गर्भवस्‍था के समय कई प्रकार की सुविधाए दी जाएगी। तथा अस्‍पताल में डिलीवरी के समय जच्‍चा व बच्‍चा दोनो का अच्‍छा ध्‍यान रखा जाता है।
  • आप भी श्रेष्‍ठ योजना का लाभ लेना चाहते है तो आपको किसी नजदीकी स्‍वास्‍थय केंद्र में जाकर अपना रजिस्‍ट्रेशन करवाना होगा। जिसके बाद आपको इस सुविधा जनक अभियान का लाभ दिया जाएगा।
 प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्‍व योजना 2022  । Pradhan Mantri Surakshit Matritva Abhiyan
प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्‍व योजना 2022

पीएमएसएमए की मुख्‍य विशेषताए

  • प्रधाानमंत्री सु‍रक्षित मातृत्‍व अभियान को देश में लगभग 3 करोड़ से ज्‍यादा गर्भवती महिलाओं को प्रसव पूर्व देखभाल की गुणवत्ता को सुनिश्चित करने के लिए शुरू कि गई है।
  • इस अभियान के अनुसार गर्भवती स्त्री को प्रमि महीने की नवीं तारीख को प्रसव की देखलार वे सेवाओं (जाचं व दवाए) का न्‍यूनतम पैकेज दिया जाता है।
  • प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्‍व योजना 2022 के तहत शहरी व ग्रामीण दोनो ही क्षेत्रों के सार्वजनिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र (पीएचसी/सीएचसी/डीएच व शहरी स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र आदि) पर यह सेवा उपलब्‍ध कराया जाएगी।
  • इस अभियान के जरिए गर्भवती महिलाओं को सार्वजनिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्रों में स्‍वैच्छिक सेवाए प्रदारन करने के लिए प्रोत्‍साहित किया जाएगा।
  • अर्थात भी महिला जो प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्‍व योजना के तहत पंजीकृत है उसे सभी जांच व दवाए जैसे की आइएफए सप्‍लीकेंट , कैलिशयम सप्‍लीमेंट आदि दी जाएगी।

जरूरी दस्‍तावेज

  • गर्भवती महिला का आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • बैंक खाता
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज का फोटो

प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्‍व योजना ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

प्रधानमंत्री सु‍रक्षित मातृत्‍व अभियान 2022 के लिए आप ऑफलाइन आवेदन भी कर सकते है। उसके लिए आपको अपने नजदीकी स्‍वास्‍थय केन्‍द्र भवन में जाकर योजना के तहत रजिस्‍ट्रेशन करवाना होता है। जिसके बाद आप इस अभियान का लाभ उठा सकते है।

  • यदि आप घर बैठे ही प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्‍व अभियान 2022 के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहती है तो उसके लिए इस लिंक https://pmsma.nhp.gov.in क्लिक करना है।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेगे तो आपके सामने इस प्रकार का होम पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आपको रजिस्‍टर करें का ऑप्‍शन दिखाई देगा उस पर क्लिक कर देना है।
  • जिसके बाद आपके सम्‍मुख इस प्रकार को एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज में मांगी गई सभी जानकारी सही-सही भरक नीचे सबमिट करे बटन पर क्ल्कि कर देना है।
  • इस प्रकार आप प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्‍व योजना के तहत अपना रजिस्‍ट्रेशन करवाकर लाभ ले सकते है।
  • और यदि आपको किसी प्रकार की समस्‍या आती है तो 800-180-1104 इन Helpdesk नबंरो पर कॉल करके पूछ सकते है।

दोस्‍तो आज के इस लेख में हमने आपको Pradhan Mantri Surakshit Matritva Abhiyan 2022 के बारें में विस्‍तार से बताया है यदि पसंद आया हो तो लाईक करे व अपने मिलने वालो के पास शेयर करे। और मन में किसी प्रकार का प्रश्‍न है तो कमंट करके जरूर पूछे। धन्‍यवाद

Advertisement

2 thoughts on “Pradhan Mantri Surakshit Matritva Abhiyan | प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्‍व योजना 2022 ऐसे करें रजिस्‍ट्रेशन”

  1. Pingback: Pradhan Mantri Gati Shakti Yojana : प्रधानमंत्री गति शक्ति योजना क्‍या है? | PMGSY के लाभ एवं विशेषताए

  2. Pingback: UP Vivah Anudan Yojana 2022 उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना ऑनलाइन आवेदन करे

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *