Advertisement

Haryana Ek Musht Niptaan Yojana 2022 : हरियाणा एकमुश्‍त निपटान योजना क्‍या है जानिए विस्‍तार से

Advertisement

Haryana Ek Musht Niptaan Yojana 2022 : हरियाणा एकमुश्‍त निपटान योजना क्‍या है जानिए विस्‍तार से | Haryana Ek Musht Niptaan Yojana in Hindi | एकमुश्‍त निपटान योजना क्‍या है | Ek Musht Niptaan Yojana pdf | हरियाणा एकमुश्‍त निपटान योजना 2022 | Niptaan Yojana in hindi

Haryana Ek Musht Niptaan Scheme 2022:- हमारी केन्‍द्र सरकार हो या राज्‍य सरकार किसानो के हित में सबसे पहले रहती है और इसी प्रकार हरियाणा राज्‍य के मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी ने प्रदेश के किसानो को कर्ज से मुक्‍त करने के लिए हरियाणा एकमुश्‍त निपटान योजना को लेकर आया है। जी हा साथियो सीएम साब किसानो को ऋण माफ करने के साथ-साथ प्रदेश में कृषि को बढ़ावा मिलेगा और सभी किसानो के साथ आत्‍मविश्‍वास बना रहेगा। इसके साथ ही आप इस स्‍कीम के बारें में अधिक जानकारी प्राप्‍त करना चाहते है तो हमारे द्वारा लिखा हुआ आर्टिकल के अंतिम शब्‍दो तक बने रहिए।

Advertisement

हरियाणा एकमुश्‍त निपटान योजना क्‍या है

हरियाणा निपटान योजना को अगस्‍त 2022 में लॉन्‍च करने की घोषणा की गई थी। जिसके माध्‍यम से हरियाणा राज्‍य के वो सभी किसान भाई जिन्‍होने जिला कृषि एवं भूमि विकास बैंको और जिला प्राथमिक सहकारी कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंको से ऋण की राशि ली हुई है। उन किसानो के उत्ताधिकारीयो को सरकार ऋण भुगतान करने के 31 मार्च 2022 तक का जो बकाया ब्‍याज हे उस पर 100 प्रतिशत छूट दे रही है। अर्थात किसी कर्जदार किसान की मृत्‍यु हो जाती है तो उसके बेटे को इस योजना का फायदा दिया जाएगा। और जो किसान स्‍वयं कर्जदार है उनको भी 50 प्रतिशत बचा हुआ ब्‍याज बिल्‍कुल माफ कर दिया जाएगा। इसके साथ ही जुर्माना और अन्‍य खर्चे भी हरियाणा सरकार एकमुश्‍त निपटान योजना के जरिए माफ कर रही है।

Haryana EK Musht Samadhan Yojana 2022

योजना का नाम हरियाणा एकमुश्‍त निपटान/समाधान योजना
घोषण की 05 अगस्‍त 2022
किसने की सीएम मनोहर लाल खट्टर जी
उद्देश्‍य किसानो का एकमुश्‍त ऋण भुगतान करने का प्रोत्‍साहित करना
लाभार्थी राज्‍य के कृषक
ऑफिशियल वेबसाइट अभी जारी नहीं हुई

हरियाणा एकमुश्‍त समाधान योजना का उद्देश्‍य

सीएम के द्वारा एकमुश्‍म समाधान योजना को शुरू करने का मुख्‍य कारण वो सभी किसान जो 31 मार्च 2022 को डिफॉल्‍टर किये जा चुके है। उनको एक राशि में ऋण का भुगताना करने के लिए प्रोत्‍साहित करना है। यह ऋण कर्जदार किसानो को 50% बकाया ब्‍याज माफ किऐ जाने के अलावा जो उसे जमा करवाना होगा। और जिन कर्जदार किसानो की मृत्‍यु हो चुकी है उनके उत्ताधिकारी (बेटा, बेटी, पत्‍नी, माता, पिता, भाई,) को 100% बाकी ब्‍याज के अलावा अन्‍य खर्चे है वो भी माफ किया जा रहा है। ध्‍यान रहे यह ऋण राज्‍य के जिला कृषि एवं भूमि विकास बैंक, जिला प्राथमिक सहकारी कृषि बैंक, ग्रामीण विकास बैंकों से जो लोन लिया हुआ है वह माफ किया जा रहा है।

Haryana Ek Musht Samadhan Yojana का लाभ व विशेषताएं

  • सीएम मनोहर लाल खट्टर जी ने 5 अगस्‍त 2022 को हरियाणा के किसानो के कल्‍याण हेतु एकमुश्‍त निपटान/एकमुश्‍त समाधान योजना को शुरू किया है।
  • जिसके माध्‍यम से राज्‍य के जितने भी जिला कृषि बैंक, भूमि विकास बैंक, जिला प्राथमिक सहकारी कृषि बैंक, ग्रामीण विकास बैंको से 31 मार्च 2022 को जिन किसानो को डिफॉल्‍टर घोषित किया गया है।
  • उनको Ek Musht Samadhan Yojana के माध्‍यम से लोन की राशि का भुगतान करने के लिए प्रोत्‍साहित करना है।
  • हरियाणा एकमुश्‍त निपटान योजना का संचालन ‘पहले आएं पहले पाएं’ के अनुसार किया जाता रहा है
  • हरियाणा सरकार द्वारा शुरू की गई एकमुश्‍त समाधान योजना को सभी प्रकार के ऋण पर लागू किया जा रहा है।
  • बैंक कर्जदार किसान की किसी कारणवश मृत्‍यु हो जाती है और उसका ऋण अभी बकाया है तो उसका उत्तराधिकारी को यह लोन 31 मार्च 2022 तक बकाया ब्‍याज पर 100% छूट एकमुश्‍त समाधान योजना के जरिए दी जा रही है।
  • जो किसान अभी इन बैंको के ऋण हितग्राही है और उनको बैंक के द्वारा डिफॉल्‍टर किया जा चुका है तो उनको एकमुश्‍त योजना के तहत 50% बाकी का ब्‍याज है उस पर छूट दी जाएगी।
  • कहा जा रहा है की योजना के जरिए जो जुर्माना ब्‍याज एवं अन्‍य खर्च राशि को भी माफ किया जाएगा।
  • बात करे वर्ष 2022 तक की तो राज्‍य के लगभग 17863 किसानो की मृत्‍यु हो गई है जिनका ब्‍याज बकाया 445 करोड़ रूपया है।
  • इस योजना के शुरू करने से राज्‍य के कर्जदार किसानो के जीवन में पुन: उम्‍मीद की लहर आई है
  • अब सभी किसान पहले की भांति अपनी खेती पर ध्‍यान देगे और आगमी वर्षो में फसल का अच्‍छा मुनाफा होगा।

हरियाणा एकमुश्‍त निपटान योजना की पात्रता

  • बैंक ऋण हितग्राहि किसान हरियाणा राज्‍य का निवासी होना चाहिए।
  • किसान हितग्राहि को बैंक के द्वारा 31 मार्च 2022 तक डिफॉल्‍टर घोषिट कर चुका है।
  • वह जिला कृषि बैंक, भूमि विकास बैंक, जिला प्राथमिक सहकारी कृषि, ग्रामीण विकास बैंक का कर्जदार होना चाहिए।

हरियाणा एमुश्‍त निपटान योजना के दस्‍तावेज

  1. आधार कार्ड
  2. निवास प्रमाण पत्र
  3. आय प्रमाण पत्र
  4. बैंक ऋण से संबंधित कागजात
  5. कर्जदार मृतक किसाना का मृत्‍यु प्रमाण पत्र
  6. बैंक खाता
  7. मोबाइल नंबर
  8. पासपोर्ट साइज का फोटो

हरियाणा एकमुश्‍त निपटान योजना आवेदन करें (Haryana Ek Musht Niptaan Yojana Apply 2022)

राज्‍य के वो सभी किसान भाई जो बैंको से किसी प्रकार ऋण लिया हुआ है जैसे, फसल ऋण, किसान ऋण, घर पर ऋण, आदि और वो सभी एकमुश्‍त निपटान योजना का लाभ लेना चाहते है। तो अभी आप सभी को थोड़ा समय इंतजार करना है वो इसलिए की सरकार ने अभी इस योजना से जुडी किसी प्रकार की ऑफिशियल वेबसाइट नहीं बनाई है और ना ही आवेदन लागू किया है। पर जैसे ही यह प्रक्रिया लागू होगी तो आपको इसी आर्टिकल के माध्‍यम से अपडेट कर दिया जाएगा। तो साथियो उसके लिए हमारी इस वेबसाइट के साथ बने रहिए।

Advertisement

आज के इस आर्टिकल में आपको हरियाणा राज्‍य सरकार द्वारा शुरू की गई एकमुश्‍त निपटान योजना के बारें में बताया है। जो न्‍यूज व अन्‍य वेबसाइट के माध्‍यम से बताया है हमारे द्वारा लिखा लेख आपको पसंद आया तो लाईक करे और सभी के पास शेयर करे। आपके मन में किसी प्रकार की समस्‍या या प्रश्‍न है तो आप नीचे कमेंट बॉक्‍स में पूछ सकते है। आपकी समस्‍या का तुरंत निवारण किया जाएगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published.